जानिये ड्राई स्किन के कारण और इसके घरेलु उपचार (Dry Skin Home Remedies In Hindi)

b

‘स्वस्थत्वक् रात्रौ एव प्रक्रिया न भवति’

‘’स्वस्थ त्वचा रातोंरात प्रक्रिया नहीं है

क्या आप जानते हैं ड्राई स्किन होने के कारण और इसके घरेलु उपचार? आज इस आर्टिकल में हम इसी विषय पर बात करेंगे। ड्राई स्किन क्या है? ड्राई स्किन तब होती है जब हमारी स्किन में नमी यानी मॉइश्चर कम हो जाता है। लेकिन इसका केवल यही कारण नहीं होता है। कई बार किसी व्यक्ति की स्किन जन्म से ही ड्राई या ऑयली होती है। इसके अलावा भी ड्राई स्किन होने के तमाम कारण हैं। तो सबसे पहले हम जानेंगे ड्राई स्किन होने के कारण क्या हैं?

ड्राई स्किन होने के कारण (Cause of dry skin)

  • मौसम में बदलाव होना, खासकर ठंडे और सर्दियों के महीनों के दौरान।
  • ड्राई एयर यानी शुष्क हवा।
  • हीटर  का बहुत अधिक उपयोग(या तो केंद्रीय या पोर्टेबल)
  • गर्म पानी से नहाना
  • स्विमिंग पूल से क्लोरीनयुक्त पानी
  • साबुन और डिटर्जेंट का केमिकल
  • त्वचा की स्थितियां जैसे एटोपिक जिल्द की सूजन, सोरायसिस, एक्जिमा, आदि।
  • त्वचा को साफ करने वाले पदार्थों का अत्यधिक प्रयोग
  • आनुवंशिकता

ड्राई स्किन को दूर करने के घरेलू उपचार

ड्राई स्किन को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपचारों को आजमाना सही हो सकता है। यहां कुछ ऐसे उपाय हैं जो आपकी त्वचा को मोइस्चराइज करने में मदद कर सकते हैं।

  1. ओटमील हनी मास्क (Oatmeal Honey Mask)

शहद में मॉइस्चराइजिंग, हीलिंग और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह शुष्क त्वचा के लिए भी प्रभावी उपाय है। दो बड़े चम्मच ओट्स में एक बड़ा चम्मच शहद मिलाएं। इस मास्क को 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें ताकि यह सुखदायक, हाइड्रेटिंग मास्क के रूप में काम कर सके।

  1. दूध का मास्क (Milk mask)

दूध रूखी और परतदार त्वचा के लिए एक उत्कृष्ट उपाय है। यह त्वचा में खोए हुए तेल की भरपाई करता है और इसे चिकना और अधिक नमीयुक्त बनाता है। त्वचा में मौजूद स्वस्थ वसा त्वचा को प्राकृतिक रूप से नमीयुक्त रखती है। दूध में रुई डुबोकर पूरे चेहरे पर लगाएं। इसे 20 मिनट तक लगा रहने दें और ठंडे पानी से धो लें। वैकल्पिक रूप से, आप शहद और दूध को मिला सकते हैं और बेहतर पोषण के लिए इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर फेस मास्क के रूप में लगा सकते हैं।

  1. नारियल तेल से अपनी त्वचा को पोषण दें (Nourish Your Skin With Coconut Oil)

क्या आप जानते हैं कि शुष्क त्वचा के लिए सबसे महत्वपूर्ण आयुर्वेदिक उपचारों में से एक अभ्यंग है? अभ्यंग केवल प्राकृतिक तेलों से आत्म-मालिश का अभ्यास है। इसके लिए नारियल का तेल, बादाम का तेल, तिल का तेल और अरंडी का तेल बेहतरीन मसाज ऑयल माने जाते हैं।

इनमें से ड्राई स्किन के लिए सबसे असरदार तेल है ऑर्गेनिक नारियल तेल। शोध में पाया गया है कि नारियल तेल में शमनकारी गुण होते हैं। इमोलिएंट एक ऐसा पदार्थ है जो त्वचा कोशिकाओं में रिक्त स्थान को भरकर एक चिकनी सतह बनाने में सक्षम है। नारियल का तेल फैटी एसिड से भरपूर होता है जो त्वचा को हाइड्रेट करने और उसकी लिपिड सामग्री में सुधार करने में मदद करता है।

रूखी त्वचा के लिए नारियल तेल का उपयोग करने की सबसे अच्छी बात यह है कि आपको इसके किसी भी दुष्प्रभाव के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। जब तक आप 100% शुद्ध नारियल तेल का उपयोग कर रहे हैं, आप इसे दैनिक और संवेदनशील त्वचा पर भी उपयोग कर सकते हैं।

  1. जैतून का तेल (Olive oil)

जैतून के तेल में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो आपकी त्वचा को पोषण देते हैं। इस तेल में मौजूद पॉलीफेनोल्स में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं और सूरज से होने वाले नुकसान का प्रतिकार करने में मदद करते हैं। अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि यह त्वचीय पुनर्निर्माण और घाव भरने को बढ़ावा देने में मदद करता है। चूहे के एक अध्ययन से पता चलता है कि लैवेंडर घाव भरने को बढ़ावा देने में मदद करता है, जो शुष्क त्वचा के कारण होने वाली खुजली और त्वचा के टूटने में मदद कर सकता है।

  1. ग्लिसरीन (Glycerin)

ग्लिसरीन न सिर्फ रूखी त्वचा पर बल्कि फटे होंठों पर भी अद्भुत काम करती है। यह त्वचा के हाइड्रेशन और त्वचा अवरोधक कार्य में सुधार करता है और त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार करता है।

  1. दही और शहद मास्क (Curd and honey mask)

एक चम्मच दही और एक चम्च शहद को मिलाकर इसे चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट बाद धो लें। यह त्वचा को मोइस्चराइज करने के साथ-साथ उसे सॉफ्ट बनाए रखने में मदद कर सकता है।

  1. तरबूज फेस पैक (Watermelon Face Pack)

तरबूज में पानी की मात्रा अधिक होती है और यह विभिन्न प्रकार के त्वचा के अनुकूल विटामिनों से भी भरपूर होता है। यह फेस पैक आपकी त्वचा को नमीयुक्त और हाइड्रेटेड बना देगा। पोर्सिन अध्ययनों में तरबूज में मौजूद लाइकोपेनी ने त्वचा की खुरदरापन और सूखापन को कम करने में मदद की

  1. दालचीनी और शहद (Cinnamon And Honey)

शहद एक प्राकृतिक ह्यूमेक्टेंट है, इसलिए यह आपकी त्वचा को नमीयुक्त रखता है। केशिका परिसंचरण में सुधार और त्वचा के छिद्रों को खोलने के लिए दालचीनी मिलाई जाती है। यह एक सूजन रोधी एजेंट भी है जिसमें मुक्त कण हटाने वाले यौगिक होते हैं

  1. अपने स्नान का तापमान समायोजित करें (Adjust Your Bath Temperature)

आपकी नहाने की आदतें आपकी त्वचा के स्वास्थ्य को निर्धारित करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाती हैं। आख़िरकार, यह एक ऐसी चीज़ है जिसे हममें से ज़्यादातर लोग हर दिन करते हैं। क्या आप उन लोगों में से हैं जो गर्म पानी से नहाने का आनंद लेते हैं? फिर, आपको यह जानकर निराशा होगी कि आपकी शुष्क त्वचा की समस्या का कारण यही हैं।

गर्म पानी से नहाने से बचने और नहाने के समय को 10 मिनट तक सीमित करने की दृढ़ता से अनुशंसा की जाती है। यह भी जांच लें कि नहाने के लिए आप कौन सा साबुन इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ साबुन त्वचा को अत्यधिक शुष्क कर देते हैं। अपनी त्वचा की नमी बनाए रखने के लिए प्राकृतिक साबुन या प्राकृतिक बॉडी क्लींजर का उपयोग करें। शुष्क त्वचा के उपचार के लिए आप अपने स्नान में उपयुक्त आवश्यक तेल भी मिला सकते हैं।

  1. दही (curd mask)

दही में लैक्टिक एसिड होता है जो आपकी त्वचा को एक्सफोलिएट करता है और इसे एक उत्कृष्ट मॉइस्चराइज़र माना जाता है। अध्ययनों से पता चला है कि दही मास्क ने उपचारित त्वचा की नमी और लोच में सुधार किया है। चीनी किसी भी प्रकार की परत को हटा देती है, जबकि शहद आपकी त्वचा को हाइड्रेट करता है।

  1. चावल के आटे का मास्क (Rice Flour Mask)

चावल के आटे में स्टार्च होता है जो एटोपिक डर्मेटाइटिस से पीड़ित लोगों में त्वचा अवरोधक कार्य में सुधार करता है। इसलिए, यह शुष्क त्वचा को भी आराम पहुंचा सकता है और इसके हाइड्रेशन का स्तर में सुधार कर सकता है।

  1. खूब पानी पियें (Drink Plenty Of Water)

अब, यहां वह युक्ति है जिसका पालन करना सबसे आसान है लेकिन सबसे कठिन भी क्योंकि हम भूल जाते हैं। आपका पानी का सेवन सचमुच आपकी त्वचा को बना या बिगाड़ सकता है। अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने और अपनी त्वचा को अंदर से बाहर तक मॉइस्चराइज़ करने के लिए पानी का सेवन बढ़ाएँ।

  1. एलोवेरा से अपनी त्वचा की मालिश करें (Massage Your Skin With Aloe Vera)

क्या आप जानते हैं कि एलोवेरा जेल में त्वचा को ठीक करने वाले गुण होते हैं? आपकी शुष्क त्वचा की समस्या का समाधान यह अद्भुत पौधा है जो शायद आपके बगीचे में उग रहा है।

सन बर्न के उपचार के रूप में लोकप्रिय एलोवेरा जेल त्वचा के रूखेपन के इलाज में भी प्रभावी है। जेल में म्यूकोपॉलीसेकेराइड होते हैं, जो त्वचा में नमी को बनाए रखने में मदद करते हैं। इसका उपयोग त्वचा के रूखेपन से जुड़ी लालिमा और त्वचा की जलन से राहत पाने के लिए किया जाता है। सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे आसानी से अपनी त्वचा पर लगा सकते हैं। आपको बस पत्ते से एलोवेरा जेल निकालना है और इसे अपनी त्वचा पर मालिश करना है।

पूछे गए प्रश्न

रूखी त्वचा के लिए कौन सा साबुन अच्छा है?

कोकोआ मक्खन, वनस्पति तेल, जोजोबा तेल, जैतून का तेल या एलोवेरा युक्त प्राकृतिक साबुन शुष्क त्वचा के लिए अच्छा है।

ड्राई स्किन को ठीक होने में कितना समय लगता है?

ज्यादातर मामलों में, सही देखभाल और मॉइस्चराइजेशन से 1 से 2 सप्ताह के भीतर त्वचा की परत और खुजली में सुधार होना शुरू हो जाएगा।

कौन से खाद्य पदार्थ शुष्क त्वचा का कारण बनते हैं?

अधिक चीनी और नमकीन खाद्य पदार्थ या परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट वाला आहार त्वचा को शुष्क बना सकता है और यहां तक कि इसे खराब भी कर सकता है।

क्या कॉफ़ी से त्वचा शुष्क होती है?

कॉफ़ी में कैफीन होता है जिसका मूत्रवर्धक प्रभाव होता है। इसलिए, यह आपकी त्वचा को निर्जलित कर सकता है।

आर्टिकल में दी गई सामग्री कहां से खरीदें?

ये सभी सामग्री आपको ऑनलाइन अमेजॉन स्टोर पर उचित दामों पर मिल जाएंगे।

References

  1. https://www.aad.org/public/diseases/a-z/dry-skin-causes
  2. https://dermnetnz.org/topics/dry-skin
  3. https://www.hopkinsmedicine.org/health/conditions-and-diseases/dry-skin
Avatar

Dr. Jyoti Lakhani

Dr. Jyoti has 15 years of experience in Clinical Practice, Research & Education in the field of Ayurveda with competency in acute & chronic conditions like Arthritis, Spondylitis, Osteoporosis, Sciatica etc. She has also expertise in treating Female Infertility disorders, other Gynecological Problems & General disorders.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here